कुछ लोग कभी नहीं बदलते शायरी

30+ कुछ लोग कभी नहीं बदलते शायरी & स्टेटस और कोट्स हिंदी में

कुछ लोग कभी नहीं बदलते शायरी | कुछ लोग कभी नहीं बदलते Status | बदले हुए लोग शायरी | कुछ लोग कभी नहीं बदलते Quotes | बदलती दुनिया बदलते लोग | अक्सर लोग भूल जाते है शायरी | बदलते लोग स्टेटस | गिरगिट की तरह रंग बदलना शायरी | बदलती दुनिया शायरी | मतलब की दुनिया शायरी | रंग बदलती दुनिया शायरी | दुनिया की सबसे बेस्ट शायरी | दुनिया की हक़ीक़त शायरी | बदलते लोग शायरी इन हिंदी 

कुछ लोग कभी नहीं बदलते शायरी

मंज़िल से गुमराह कर देते है कुछ लोग,
हर किसी से रास्ता पूछना नहीं चाहिए

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

जैसे जैसे दिन गुज़रते जा रहे है,
वैसे वैसे कुछ लोग मेरे दिल से उतारते जा रहे है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोग आते तो ऐसे है, जैसे कभी जायँगे नहीं,
फिर एक दिन ऐसे जाते है, जैसे कभी जायँगे नहीं।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोग कभी नहीं बदलते Status

कुछ लोगो के नज़रअंदाज़ करने का अंदाज़ भी बड़ा,
बेमिसाल होता है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बदलते नहीं है कुछ लोग बस बुड्ढे हो जाते है,
बदल जाते है कुछ लोग जो ठोकर कहते है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

सफ़ेद रंग की तरह फितरत होती है कुछ लोगो की,
नए रंग में मिलते ही अपना रंग बदल लेते है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोग ऐसे भी होते है
जो दुसरो को तो बदलते है, पर खुद को नहीं।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बदले हुए लोग शायरी

उतर जाते है कुछ लोग मेरे दिल में इस कदर
जो अगर उनको निकालू तो जान निकल जाती है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

इस बेरंग सी ज़िन्दगी में कमल करते है कुछ लोग,
किसी की ख़ामोशी का फायदा उठा कर, बवाल करते है कुछ लोग।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

जब तक काम है तब तक नाम है,
जिस दिन काम ना आ सके,
सबके लिए बदनाम है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोग बहुत मुस्कुराते है,
क्योकि उन्हें शायद पता होता है,
उनका दर्द समझने वाला कोई नहीं।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बदलती दुनिया बदलते लोग

कुछ लोग कितने गजब होते है,
झूठ भी बोलना नहीं आता,
जज़्बातो को दबना नहीं आता
फिर कोशिश में लगे रहते है।।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोगों को हमने अनपेड काम पे रखा है,
यहाँ की बातें वहा करने को।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोग होते है,
जिनके ना होने से, ज्यादा फ़र्क़ तो नहीं पड़ता,
बस उनकी नामौजूदगी से शाम नहीं ढलती।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

कुछ लोगो को एक बार समझाया जा सकता है बार बार नहीं।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

अक्सर लोग भूल जाते है शायरी

अक्सर लोग भूल जाते है शायरी

बदल जाते है कुछ लोग उस वक़्त की तरह,
जिन्हे हद से ज्यादा वक़्त दे दिया जाता है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

भूल गए है कुछ लोग हमें इस कदर,
यकीं मनो हमें यकीन ही नहीं आता।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

तेरी बातों में अब वो बात कहाँ है,
पहले जैसे रहे अब वो जज़्बात कहाँ है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

अब तो होली भी हो ली जनाब..
और कब तक रंग बदलोगे?

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

रंग बदलती दुनिया शायरी

ऐसा नहीं है की लोगो के पास दिल नहीं रहा,
बस दिल से सोचने का वक़्त नहीं रहा.!

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बदलती है तारीख, बदल जाते है ज़माने भी, बदले अगर थोड़ा वक़्त तो बदल जाते है,
यार पुराने भी।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

अगर लड़कियां बदल जाती है तो मज़बूरी,
और लड़के बदल जाते है तो वो धोखेबाज…!!!

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

अब डर मोत से नहीं कुछ लोगो,
के उनके टाइम पास का हिस्सा,
बनने से डर लगने लगा है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

होली के रंग के बचने की ज़रूरत नहीं है,
बस रंग बदलने वालो से बच के रहना।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

गिरगिट की तरह रंग बदलना शायरी

 

बदल गए हो तुम,
बिखर गए है हम।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

लोग बदलते नहीं ग़ालिब बेनकाब होते है,
कोई बेनकाब नहीं होता, मुरशद….!
उनको बेनकाब किया जाता है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बुरे वक़्त के कारवां मैं पुराने रिश्ते यूँ बदल से गए है,
बाँट कर जमीं सारी, वे खुशियों के भी हिस्सेदारी करने लगे।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

जान से अनजान में तब्दील होते देखे है,
मेने अपने गैरों के वकील होते देखा है ।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बदल जाते है लोग पूछते है क्या हाल है,
हम तो कल भी कमल थे और आज भी बेमिसाल है ।।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

मतलब की दुनिया शायरी

आज भी सब कुछ वैसा ही है,
कुछ भी बदला नहीं,
उनका लहज़ा बता रहा शख्सियत काफी नयी है उनकी।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

चेहरे बदल गए हो या मौसम हो गए हो,
आदत दाल ले इन बदलते मोसमो की या तुम अजनबी हो गए हो।
तुझे समझने में गुज़ारे चाँद साल,
लेकिन अब ये मत कहना के तुम ही बदल गए हो।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

मेने इस दुनिया में सबके बदलते देखा है,
रंग गिरगिट का बदलता है जैसे,
उसे मेने आशिक़ बदलते देखा है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

भाई असली खूबसूरती तो सांवले पन में होती है,
वर्ण गोर तब भी धोखेबाज़ थे और अब भी।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

अगर आप रिश्तो के लिए वक़्त नहीं निकाल पाते है,
तोह वक़्त आपके बिच से रिश्ते ही निकल देता।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

दुनिया की सबसे बेस्ट शायरी

वक़्त तो सिर्फ 1 बहाना है,
बदल तो इंसान जाते है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

सूखे पत्ते भीगने लगे है, फिर अरमानो की तरह,
मौसम फिर बदल रहे है, इंसानो की तरह..!!

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बदलते तो वो लोग है, जिन्हे तुमसे नहीं अब
किसी और के लिए चाहत बढ़ने लगती है।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

बात जब जरुरत की हो तो इंसान की बोली,
इस चाय की तरह हो जाती है ।

•❅──────✧❅✦❅✧──────❅•

यह भी पड़े:- 

One comment

Leave a Reply