मुँह तोड़ जवाबी शायरी हिन्दी मे | Karara jawab shayari

मुँह तोड़ जवाबी शायरी हिन्दी मे : दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसी हिंदी शायरी देने वाले है जो आपके लिए बहुत ही बढ़िया साबित हो सकती है, यानी की अगर कोई आपको बार बार पिंच कर रहा है तो यार फिर बुरा भला कह रहा है लेकिन आपके पास उसको कहने के लिए साफ़ अल्फ़ाज़ नहीं है लेकिन आप उस इंसान को मुँह तोड़ जवाब देना चाहते है तो आप बस निचे दी गई हमारी मुँह तोड़ जवाबी शायरी उस इंसान को भेज सकते है या फिर अपने Whatsapp के status में लगा कर उस इंसान को निचा दिखा सकते है।

जिसे आप को मुँह तोड़ जवाब देना है, निचे दी गई शायरी अगर आपको पसंद आये तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर से शेयर करे ।

जवाबी शायरी, जवाबी शायरी हिंदी में, शायरी जवाबी, जवाबी शेरी शायरी, jawabi shayari, jawabi shayari hindi, jawabi shayari hindi mai, jawab dene wala status, jawab dene ke liye, jawab dene wale, Hindi Status, मुँह तोड़ जवाबी शायरी, karara jawab shayari


मुँह तोड़ जवाबी शायरी हिन्दी मे


बड़े होते होते एक बात समझ आ गई हे
खामोश रहना जवाब देने से बेहतर है ।।


जलने वाले सीधे मुँह बात करे ना करे
लेकिन हमारी हर पल की खबर रखना नहीं भूलते ।


साहस तो हम में भी था, मुँह तोड़ जवाब देने का,
बस यह सोच कर रुक जाते थे हम औरो की तरह नहीं है।


तब वक़्त था चुप रहने का,
अब वक़्त है मुँह तोड़ जवाब देने का ।।


ज़िन्दगी है तो इम्तेहान भी होगा,
कभी जीत तो कभी हार भी होगी,
ऐ दोस्त तू खुद पे भरोसा रखना,
एक दिन यह दुनिया तेरी गुलाम भी होगी ।।


जवाबी शायरी हिंदी में

चाहता तो मुँह तोड़ जवाब दे सकता था,
मगर क्या है न की मुझे गन्दगी से खेलने की आदत नहीं है ।।


हम गाँधी नहीं है जो एक थप्पड़ मरने पे दूसरा गाल आगे करेंगे,
हम वो है जो तुम्हारे एक आँख देखने पर दोनों गाल लाल कर देंगे ।।


हम जवाब देना सीख जायँगे,
लोग औकात में रहना सीख जायँगे ।।


जिनको हम जवाब नहीं देते
उनको वक़्त जवाब देता है ।।


हर किसी को मना लिया है,
हर पल का हिसाब दिया है,
जो बोलते थे मेरे बारे में ही बुरा हमेशा,
उन लोगो को मुँह तोड़ जवाब दिया है ।


Karara jawab shayari

जब कोई मुझे हलके में लेता है,
तो में उसे बहुत भरी जवाब देता हूँ ।


सवाल ना हो तो रिश्ता निखरता है,
लेकिन जवाब ना हो तो रिश्ता बिखरता है ।।


पलट कर जवाब देना बेशक गलत है जनाब,
पर सुनते रहोगे तो लोग बोलने की तमीज भूल जाते है ।


तुम सबके सामने मेरा साथ नहीं देते हो,
रोटी हूँ आँखों ने पूछा, मुस्कुराते हुए लबो से ।


जवाब देना सीख जाओ,
सवाल उठने बंद हो जायँगे ।।


लोगों को खुद की गलती गलती लगती है तो फिर,
दूसरे की गलती गुनाह क्यों ?


Karara Jawab Shayari

तुम पहले भी ऐसे थे,
या मुझे से नफरत करने के बाद मुझे बर्बाद करने का नशा चढ़ा ।।


बिछड़ते वक़्त उसे कहा था,
ना सवाल करना ना जवाब मिलेगा,
तुम भूल जाना सुकून मिलेगा,
ना सवाल किया ना जवाब मिला,
ना भूल सका ना सुकून मिला ।।


कुछ बातो का जवाब सिर्फ ख़ामोशी होती है,
और ख़ामोशी बहुत खूबसूरत जवाब होता है ।


अगर क्या में मर जाऊँ तोह क्या तुम आओगे,
मेरी क़बर पर अपने आंसू बहाओगे,
और कोई पूछे तुमसे तुम यहाँ कैसे,
तो क्या तुम मुझे अपनी जान बाओगे ।।


हमारे भेजे संदेसो का हिसाब तो आये,
ना ही सही, मगर कोई जवाब तो आये ।।


तेरा मेरे क़रीब होकर मेरा ना होना,
एक यही मेरा सवाल रहा, ना जाने क्यों तेरे जाने के बाद भी,
मेरे इस जिस्म में तेरा ही बवाल रहा ।।


तेरे झूठ से तड़पेगा भी, जवाब को तरसेगा भी,
पर वक़्त के साथ शायद यह दिल संभल जायगा,
भूल जाना तो इतने सालो में मुमकिन ना हुआ,
पर अब शायद याद करने का तरीक़ा बदल जायगा ।।


यह भी पढ़े :