Jazbaat Shayari In Hindi | जज़्बात शायरी इन हिंदी

जज्बात शायरी इन हिंदी
दोस्तों हम जब किसी को दिल से चाहते है तो सामने वाले को आपकी कदर हो या ना हो लेकिन आपका उनके प्रति चिंता उनके लिए उनकी जिम्मेदारी कम करने के लिए दिन भर सोचते रहना।
दोस्तो जब हम उनकी परेशानी सुनते है तो हमारा दिल बिलकुल यह नहीं सोचता की में इसकी परेशानी क्यू सुन रहा हु।
क्योंकि उस वक्त आपका रिश्ता उनके साथ दिलो का रिश्ता बन जाता है और आप उसके प्रति जज्बाती हो जाते है और आप उसकी मदद करने के लिए उसकी हर पल उसके साथ उसके पास रहते है और उसकी परेशानी कम हो तब ही आप उसके पास से जाते है… तो चलिए दोस्तो शुरू करते है बिना किसी देरी के जज़्बात पर शायरी सिर्फ और सिर्फ आपकी अपनी पसंदीदा वेबसाईट राहतिंदोर शायरी पर…

जज़्बात शायरी, जज़्बात पर शायरी,  Jazbaat Shayari In Hindi, Jazbaat Shayari 2 Line, जज़्बात शायरी फॉर फेसबुक, जज़्बात शायरी फॉर गर्लफ्रेंड 2 लाइन, प्यार की चिंता शायरी स्टेटस, जज़्बात शायरी फॉर फेसबुक

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

Jazbaat Shayari In Hindi| जज़्बात शायरी इन हिंदी

Kitna Bebas Hai Insan Qismat K Aage,
Hr Sapna Toot Jata Hai Haqeeqat K Aage,
Jisne Kabhi Duniya Me Jhukna Nhi Seekha,
Wo Bhi Jhuk Jata Hai Mohabbat K Aage.

यह भी पढ़े :- motivational quotes in hindi

कितना बेबस है इंसान किस्मत के आगे,
हर सपना टूट जाता है हक़ीक़त के आगे,
जिसने कभी दुनियां में झुकना नहीं सीखा,
वो भी झुक जाता है मोहब्बत के आगे।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Kaun Kahta Hai Hum Uske Bina Mar Jaenge,
Hm Dariya Hain Samundar Me Utar Jaenge,
Wo Taras Jaenge Pyar Ki Ek Boond Keliye,
Hm To Badal Hain Pyar K Kahi Aur Baras Jaenge.

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे,
हम तो दरिया हैं समंदर में उतर जायेंगे,
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बूँद के लिए,
हम तो बादल हैं प्यार के कहीं और बरस जायेंगे।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Dil Ki Dhadkan Aur Meri Sada Ho Tum,
Meri Pehli Aur Aakhri Wafa Ho Tum,
Chaha Hai Tumhe Chahat Se Badhkar,
Meri Chahat Aur Chahat Ki Inteha Ho Tum!!!!

दिल की धड़कन और मेरी सदा हो तुम,
मेरी पहली और आख़िरी वफ़ा हो तुम,
चाहा है तुम्हें चाहत से बढ़कर,
मेरी चाहत और चाहत की इंतहा हो तुम।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

Aisa Nahi Hai K Din Nhi Dhalta
Ya Raat Nhi Hoti,
Par Sab Kuchh Adhura Sa Lagta Hai
Jab Tumse Baat Nhi Hoti.

ऐसा नहीं है कि दिन नहीं ढलता
या रात नहीं होती,
पर सब अधूरा अधूरा सा लगता है
जब तुम से बात नहीं होती।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

Jazbaat Shayari 2 Line

Ittefaq Se Hi Sahi Magar Mulaqat Ho Gayi,
Dhundh Rahe The Hm Jinhe Unse Bat HoGayi,
Dekhte Hi Unko Jane Kaha Kho Gaye Hum,
Wahi Se Hmare Pyar Ki Shuruwat HoGayi.
इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी,
ढूंढ रहे थे हम जिन्हें उन से बात हो गयी,
देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम,
वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी।
───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Ghham Me Hansne Walon Ko Rulaya Nhi Jata,
Lahron Ko Pani Se Milaya Nhi Jata,
Hone Wale Ho Jate Hain Khud Hi Apne,
Kisi Ko Kah Kar Apna Banaya Nhi Jata.

ग़म में हंसने वालों को रुलाया नहीं जाता,
लहरों को पानी से मिलाया नहीं जाता,
होने वाले हो जाते हैं खुद ही अपने,
किसी को कह कर अपना बनाया नहीं जाता।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Rahe Na Kuch Malaal Badi Shiddat Se Kijiye
Nafrat Bhi Kijiye To Zara Mohabbat Se Kijiye.

रहे न कुछ मलाल बड़ी शिद्दत से कीजिए,
नफ़रत भी कीजिए तो ज़रा मोहब्बत से कीजए।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Dil K Sagar Me Lahre Uthaya Na Karo,
Khwab Bankar Neende Churaya Na Karo,
Bahut Chot Lagti Hai Mere Dil Ko,
Tum Khwabo Me Aakr Yu Tadpaya Na Karo.

दिल के सागर में लहरें उठाया ना करो,
ख्वाब बनकर नींदें चुराया ना करो,
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को,
तुम ख़्वाबों में आकर यूं तड़पाया ना करो।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

जज़्बात शायरी फॉर गर्लफ्रेंड 2 लाइन

Ek Muskan Tu Mujhe Ek Bar Dede,
Khwab Me Hi Sahi Ek Deedar Dede,
Bs Ek Bar Kar De Tu Aane Ka Waada,
Phir Umr Bhar Ka Chahe Intazar Dede!!!
एक मुस्कान तू मुझे एक बार दे दे,
ख्वाब में ही सही एक दीदार दे दे,
बस एक बार कर दे तू आने का वादा,
फिर उम्र भर का चाहे इन्तजार दे दे।
───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Kabhi Sambhle To Kabhi Bikhar Gaye Hm,
Ab To Khud Me Hi Simat Gaye Hm,
Yun To Zamana Kharid Nhi Sakta Hme,
Magar Pyar K Do Lafzon Se Bik Gaye Hm!!!
कभी संभले तो कभी बिखर गए हम,
अब तो खुद में ही सिमट गए हम,
यूँ तो जमाना खरीद नहीं सकता हमें,
मगर प्यार के दो लफ़्ज़ों से बिक गए हम।
───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───
Bhigi Hui Ankho Ka Ye Manzar Na Milega,
Ghar Chhod K Na Jao Kahi Ghar Na Milega,
Phit Yad Bahut Aayegi Zulfon Ki Ghani Sham,
Jab Dhoop Me Saya Koi Sar Par Na Milega,
Aansu Hai Ye Inhe Os Ka Qatra Na Samajhna
Kahi Aisa Tumhe Chahat Ka Samundar Na Milega!!!
भीगी हुयी आँखों का ये मंजर न मिलेगा, घर छोड़ कर न जाओ कहीं घर न मिलेगा,
फिर याद बहुत आएगी जुल्फों की घनी शाम, जब धूप में साया कोई सर पर न मिलेगा,
आंसू हैं ये इन्हें ओस का कतरा न समझना, कहीं ऐसा तुम्हें चाहत का समुंदर न मिलेगा।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

प्यार की चिंता शायरी स्टेटस

usne khat ek raat likhe the aasu se,
dil ke sab jazbat likhe the aasu se!!!

उसने ख़त इक रात लिखे थे आंसू से
दिल के सब जज़्बात लिखे थे आंसू से!!!

यह भी पढ़े :- इमोशनल शायरी 

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

manta hu me ki yeh sacche tere jazbat hai,
khair fir bhi itna jyaada shukriya acha nahi!!

मानता हूँ मैं कि ये सच्चे तेरे जज़बात हैं
ख़ैर फिर भी इतना ज़्यादा शुक्रिया अच्छा नहीं!!!

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

kaho to kabhi tum koi baat humse,
chipate hi rehte ho jazbat humse!!

कहो तो कभी तुम कोई बात हमसे,
छिपाते ही रहते हो जज़्बात हमसे!!!

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

ek fakat tu nahi milti hai ab,
e hakikat kaha rehti hai tu!!

इक फ़क़त तू नहीं मिलती है अब
ऐ हक़ीक़त कहाँ रहती है तू!!!

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

जज़्बाती प्यार मोहोब्बत शायरी इन हिंदी

nahi me janta hu jazbat kya hai,
bataye wo mujhe ki baat kya hai,
hua hai kya jo me ye puuchta hu,
batao tum meri awkaat kya hai!!

यह भी पढ़े :- लोग भूल जाते है शायरी

नहीं मैं जानता जज़्बात क्या है,
बताएँ वो मुझे की बात क्या है,
हुआ है क्या जो मैं ये पूछता हूँ,
बताओ तुम मिरी औकात क्या है!!!

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

dil se chaaho to saja dete hai log,
sache jazbat bhi thukra dete hai log,
kya dekhenge do insaan ka milan,
saath bethe do parindo ko bhi udaa dete hai log…

दिल से चाहो तो सजा देते है लोग,
सच्चे जज्बात भी ठुकरा देते है लोग,
क्या देखेंगे दो इंसानों का मिलन
साथ बैठे दो परिंदों को भी उड़ा देते है लोग.

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

man re maskhari na kar, baat tu khari kkhari kar,
keemti jazbat hai, inki taskari na kar!!

मन रे मसखरी न कर, बात तू खरी खरी कर,
कीमती जज़्बात है ये, इनकी तस्करी न कर.

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

DIL ke jazbat ko jab kagaz par utara,
padhe likhe log bhi na samajh paye dard humara!!

दिल के जज्बात को जब कागज़ पर उतारा,
पढ़े-लिखे लोग भी ना समझ पाये दर्द हमारा।

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

जज़्बात शायरी फॉर फेसबुक

jo log jazbat chupane wale hote hai,
wo jyada khyaal karne wale hote hai!!!

जो लोग जज्बात छुपाने वाले होते है,
वो ज्यादा ख्याल करने वाले होते है.

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

khamosh reh kar jana humne,
tuute hue jazbat shor bahut machate hai!!!

खामोश रह कर जाना हमने,
टूटे हुए जज्बात शोर बहुत मचाते है.

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

jab tak khud par nahi guzarti,
ehsaas aur jazbat mazak lagte hai!!!

जब तक खुद पर नहीं गुजरती,
अहसास और जज़्बात मज़ाक लगते है.

───✱*.。:。✱*.:。✧*.。✰*.:。✧*.。:。*.。✱ ───

Exit mobile version