Neend Nahi Aa Rahi Shayari

Neend Nahi Aati Shayari | नींद नहीं आ रही शायरी हिंदी में

Neend Nahi Aati Shayari :- हेलो दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको नींद नहीं आती शायरी और नींद नहीं आ रही शायरी हिंदी में देने वाले है, दोस्तों यह शायरियां आप अपने चाहने वाले को या अपने सोशल मीडिया के स्टेटस में भी लगा सकते है।

दोस्तों इस पोस्ट में हम नींद से जुड़ी कुछ यूनिक और बिलकुल नई हिंदी शायरी लिखने वाले है जो आप ने पहले बहोत ही मुश्किल से सुनी होगी। इन शायरियों को आप Instagram की रील या फिर TikTok की शायरी वीडियोस बना कर के आप अपने लिए बहोत से Followers भी भाड़ा सकते है।

दोस्तों अगर रात को सोते वक़्त एक छोटा सा और प्यारा सा मैसेज अगर आप किसी को सेंड कर देते है तो आप के ज्यादा चांस हो जाते है की आप उस इंसान को पा लोगे जिसे आपने यह मैसेज भेजा होगा।

इस पोस्ट में हमने इन सभी टॉपिक्स को कवर किया है।

Shayari On Neend And Ishq – नींद नहीं आती मुझे कविता – मोत की नींद शायरी – सोने पर शायरी – Romantic Neend shayari in hindi – नींद और ख्वाब शायरी – नींद पर हिंदी कविता । 2 लाइन हिंदी शायरी | Neend Nahi Aati Shayari

इस पोस्ट की फोटोज को High Quality में Download करने के लिए आप डोनलोड के बटन पर क्लिक कर के अपने फ़ोन में ले सकते है व फिर हमारे इंस्टाग्राम पेज से भी स्क्रीन शॉट ले सकते है हमारे इंस्टाग्राम पेज लिंक बटन भी आपको दिख रहा होगा। Shayri_365

Download Images

तो चलिए महफ़िल की शुरुआत करते है इस प्यारे सी शायरी के साथ।

Neend Nahi Aa Rahi Shayari

Neend Nahi Aa Rahi Shayari

ज़रूरतों को दरकिनार कर ख्वाहिशों के पीछे भागते है,
दिन का सुकून तो गवाया था, अब रातो में भी जागते है।

– सोने पर शायरी –

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

ए नींद, तू कहा खो गई,
किस झोपडी में सो गई,
दौलत ने बिछाए बिस्तर
तू ज़मीं पर ही सो गई।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

Neend Nahi Aa Rahi Shayari

कुछ बाते है मलाल सी यह निकल क्यों नहीं जाती,
हां थक तो जाता हु मैं पर मुझे नींद क्यों नहीं आती।
– Romantic Neend shayari in Hindi –

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

एक नींद है जो आती नहीं,
और एक नसीब है जो जाने कब से सोया है।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

नींद और ख्वाब शायरी
नींद और ख्वाब शायरी

एक वक़्त था जब आँखे बंद करते ही नींद आ जाती थी,
और एक वक़्त आज का है आँखे बंद करते ही एक चेहरा सामने आ जाता है।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

नींद पर 2 लाइन हिंदी शायरी

अब तो नींद में भी रो देती है आँखे मेरी अक्सर,
जब तुम ख्वाब में भी साथ छोड़ जाते हो।
– नींद और ख्वाब शायरी –

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

कसूर उनका नहीं कसूर तो मेरे दिल का है,
जितना इश्क़ मुझ से नहीं करता, उससे ज्यादा उनपे मरता है।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

नींद ना पहले आती थी,
ना अब आती है, पहले बाते करने से,
और अब बाते ना करने से।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

नींद पर हिंदी कविता

जल्दी से तुम्हे एक नज़र देख कर लौट जाऊं,
नींद में आते हो तो बड़ा प्यार आता है तुम पर।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

वो जब भी मुझ से नाराज़ सी हो जाती है,
मेरी नींद मुझ से खफा सी हो जाती है।
– नींद पर हिंदी कविता –

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

Neend par love shayari hindi me
Neend par love shayari hindi me

उसे मुझसे मोहब्बत हो रही थी
नींद न खुलती तो बस हो ही गई थी।।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

जब नींद नहीं आती तो पता चलता है,
दौलत और शोहरत से ज्यादा सुकून की कीमत होती है।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

Neend Nahi Aati Shayari

नींद आते हुए भी, नींद ना आ पाना,
रात लिखती है मानो हर रोज़,
मेरी मोहब्बत का फ़साना।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

हसे तो हस लेते है,
दिल में दर्द हो तो रो लेते है,
नींद वैसे भी कहा आती है,
एक ग़ालिब,
पर सपनो में वो आयंगे यह सोच कर सो लेते है।
– 2 लाइन हिंदी शायरी –

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

Neend or khwab par shayari

चलता हु नींद में आज कर देख जरा तेरी बेरुखी ने क्या क्या कर दिया।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

सुनो कोई जबरदस्ती नहीं होगी हमारे इश्क़ में,
मैं तुम्हे नींद से जगा दिया करूँगा,
और तुम उठ कर मेरे लिए कॉफी बना देना।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

अपनी नींद चुरा कर तुम्हे चिट्ठी में भेज रहा हु,
सुना है आजकल तुम फिर रातों में जाग रहे हो,
– नींद नहीं आने पर हिंदी शायरी – 

─── ・ 。゚☆: *. .* :☆゚. ───

फिर से वही रोग लग गया है हमें पुराना,
अँखियों में नींद का जरा सा भी नहीं आना।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

यह जूनून ही है तुम्हारा,
जागो तो ख्याल तुम्हारा,
सो जाओ तो ख्वाब तुम्हारा।
– नींद नहीं आती फनी शायरी –

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

नींद आंको में तेरे बिना आती नहीं,
तू सुकून है इस दिल का,
तुझे यह बात समझ आती नहीं,
चुराकर हमसे हमारा सबकुछ,
बेखबर होकर सोये है,
चैन भी हमें कहा इनके बिना,
की पूरी रातो में इनके बिना कैसे सोये है।

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

नींद नहीं आएगी शायरी

सुना है आज कल नींदो में मुस्कुराता हु मैं,
आख़िर सपनो में आके क्या कर जाती हो तुम।
– नींद नहीं आएगी शायरी – 

─── ・ 。゚☆: *.☽ .* :☆゚. ───

तेरे आने की उम्मीद में इधर उधर भागते है,
दिन का चैन तो गया ही था, अब तो रातों को भी जागते है।


यह भी पड़े :-