Shahnoor shah instagram Shayari

shahnoor shah shayari instagram shayari in hindi | इंस्टाग्राम शायरी

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको Shahnoor shah की Shayari देने जा रहे हे। आप में से बहुत से लोग तो इनको जानते ही होंगे और लगभग आप में से सभी लोगो ने shahnoor bhai की शायरी सुनी भी होगी । दोस्तों हमने इस पोस्ट में shahnoor shah की लगभग सभी शायरी add कर ली है फिर भी अगर कोई रह गई हो तो आप हमें निचे कमैंट्स में ज़रूर बता देना हम वो भी add कर देंगे ।

instagram shayari, instagram attitude shayari, instagram shayari in hindi, shayari for instagram post, hindi shayari for instagram bio, instagram sad shayari, bio shayari, shayari for instagram, instagram love shayari, instagram poetry in urdu, shayari instagram post, instagram 2 line shayari, sad shayari instagram, instagram shayari love, instagram photo shayari, love shayari instagram, best shayari for instagram post, insta shayri in hindi


shahnoor shah shayari

क्या कहें कुछ कहा नहीं जाता !
दर्द है पर सहा नहीं जाता !
मोहब्बत हो गई है आपसे इस कदर !
की आपसे मिले बगैर अब
रहा नहीं जाता !!!


अर्ज़ किया है की
आप की याद आये तो हम क्या करे
याद दिल से ना जाये तो हम क्या करे
सोचता हूँ के आपसे मुलाकात होगी सपनो में
पर नींद ही नहीं आये तो हम क्या करे।


instagram shayari in hindi

समझदार ही करते है सारी गलतियां
क्या कभी किसी पागल को देखा है इश्क़ करते हुए।


कभी धुप में कभी छाँव में
कभी नींद में कभी होश में
तू जहां मिला तुझे देख कर
ना नज़र मिली ना ज़ुबान हिली
यूँ ही सर झुका कर गुज़र गए।


के वो जो ना आने वाला था,
उससे हमें मतलब था
आने वाले क्या मतलब आते है आते होंगे
यारों कुछ तो हाल सुनाओ उसकी क़यामत बाहों का,
वो जो सिमटते होंगे न मर ही जाते होंगे।


instagram attitude shayari

आंसू आ जाते है रोने से पहले !
ख्वाब टूट जाते है सोने से पहले !
लोग कहते है की मोहब्बत एक गुनाह है !
काश कोई रोक लेता इन गुनाहो से पहले !!


हम कभी समझ ही नहीं पाए तेरे फेसलो को ऐ खुदा,
हम इनके हक़दार नहीं या फिर हमारी दुआओ में दम नहीं !!


मेहेरबानी ना सही एक ज़ख़्म तो देदे
महसूस तो हो के कोई भुला नहीं अब तक
तन्हाइयों में जब जब तेरी यादों से मिला हूँ,
महसूस किया है के तुझे देख रहा हूँ।


shayari for instagram post

पुराने दिनों की याद दिला गया,
अजीब शख्स था दर्द मिटा कर चला गया।


कभी खुद को तू मेरी जगह पे रख,
तरस ना आये तो छोड़ देना,
सुना है की मोत एक पल भी मोहलत नहीं देती,
अगर अचानक मर जाऊं तो माफ़ कर देना !!


आज तफ्सील नहीं बस इतना सुनो,
आज मौसम हसीं है पर तुम जैसा नहीं।


hindi shayari for instagram bio

दिल की हसरत थी तुझे देखेंगे हम ख्वाबो में
ना नींद आयी ना तुम आये
बस गुज़र गई सारी रात तेरी यादों में।


एक हुक सी दिल में होती है
एक दर्द जिगर में होता है,
हम रात को उठ उठ रोते हैं
जब सारा आलम सोता है
इश्क़ तो ऐसी चीज़ है।


ना साथ किसी का ना सहारा है कोई,
ना हम किसी के ना हमारा है कोई।


instagram sad shayari

के दुश्मनी ही सही तो क्या हुआ,
यह बादशाह आज भी हज़ारों दिलो पर राज करता है।


गैर की बातो का आखिर एतबार आ ही गया,
मेरे जानिब से तेरे दिल में गुबार आ ही गया
जानता था की बेवफा खा रहा है झूठी कसम,
सादगी देख कर एतबार आ ही गया,
दिल में था हश्र के अब न कभी बोलेंगे उनसे
बेवफा सामने आया तो प्यार आ ही गया।


पूछा हमने उनसे के भुला दिया हमको कैसे ?
तो कहने लगी के ( चुटकी बजाते हुए ) ऐसे ऐसे ऐसे


instagram love shayari

मर चूका हूँ में मगर ज़िंदा हूँ में,
ज़हर जैसी कुछ दवाये चाहिए,
पूछते है आप। आप अच्छे तो है,
जी अच्छा हूँ बस दुआए चाइये।


दिल उदास ज़ुबान खामोश और यह आँख नाम क्यों है,
तुझे तो कभी पाया ही ना था, फिर आज तुझे खोने का गम क्यों है।


दिल का ज़ख़्म दिखाया नहीं जाता,
गम का किस्सा बार बार सुनाया नहीं जाता,
तुम जी भर के देख लेना इन आँखों को
क्यों की यह कफ़न बार बार हटाया नहीं जाता।


instagram 2 line shayari

आज बैठा तो एक ख्याल आया,
खुद के देखा तो एक सवाल आया,
मुद्दद गुज़र दी किसी को खुश करने में,
कहाँ है मेरा सुकून यह सवाल आया।


वो हमसे इश्क़ भी कमल करते है,
बेथ कर साथ मेरे हमपे ही शक और सवाल करते है,
हमतो शराफत से मोहब्बत निभा रहे थे,
मगर वो है की हर बात पर बवाल करते है।


एक सवाल है के कोई मर जाये तो सबर आता है,
अगर बिछड़ जाये तो क्यों नहीं आता।


instagram love shayari photo

जिसने मेरी आवाज से ही मेरी तक़लीफो को पहचाना है
हाँ वो मेरी माँ है जिनसे मुझ से ही बेहतर मुझ को जाना है ।।


पूछते है सभी मुझसे मोहब्बत आखिर है क्या,
हमने भी कह दिया मोहब्बत एक ऐसा शिर्क है की करता भी खुदा से है
और मांगता भी खुदा से ।


हर नशा शराब नहीं होता,
हर कांटे वाला फूल गुलाब नहीं होता
तुम मुझसे मोहब्बत करने से इतना डरती क्यों हो,
किसी शायर की मोहब्बत होना इतना ख़राब नहीं होता।


best shayari for instagram post

वो गुस्सा होती है तो में चुप हो जाता है,
कुछ इस तरह से में उसके नखरे उठता हूँ ।।


तुम जब आओगी मुझे खोया हुआ पाओगी,
मेरी तन्हाइयों में ख्वाबो में सिवा कुछ नहीं।।


कोशिश तो बहुत की राज-ऐ-मोहब्बत बयां ना हो।
लेकिन मुमकिन कहाँ के आग जले और धुंआ ना हो।।


insta shayri in hindi

तो अर्ज़ है के वो है जान अब हर एक महफ़िल की,
हम भी घर से काम निकलते है, क्या तकल्लुफ करे यह कहने में
जो भी खुश है हम उनसे जलते है ।


एक आखरी बार कहो की तुम्हे मुझसे प्यार नहीं,
काफी वक़्त लगा के खुद को यह समझने में और एहसास दिलाने में,
की हमारे पास तुम नहीं और तुम्हारे पास हम नहीं।


दुनिया का हर शख्स दर्द का तजुर्बा रखता है,
फिर भी दुसरो के दर्द को नहीं समझ नहीं सकता।


instagram ki shayari

कई दिन हो गए कुछ लिखा नहीं,
कई दिन हो तुझे देखा नहीं,
हसरते दीदार ने आँखों को अँधा कर दिया।


कुछ हार गई तक़दीर कुछ टूट गए सपने,
कुछ गेरो ने किया बर्बाद तो कुछ भूल गए अपने।


चाहने वालो का शुक्रिया और ना चाहने वालो का दिल से शुक्रिया,
तोड़ने वाले तो हज़ार बैठे है, लेकिन जोड़ने वाला सिर्फ अल्लाह।


instagram story shayari

मुस्कुराना ही ख़ुशी नहीं होती,
उम्र बिताना ही ज़िन्दगी नहीं होती,
यूँ तो खुद को मिटाना पड़ता है दोस्ती में,
सिर्फ दोस्त कहने से दोस्ती नहीं होती।


जब जब जहाँ जहाँ मुझे तुम्हारी ज़रूरत थी,
तब तब वहां वहां मेरा साथ छोड़ने का शुक्रिया।


अगर तुम समझ पाते मेरी चाहत की इन्तहा,
तो हम तुमसे नहीं तुम हमसे मोहब्बत करते।


instagram reels shayari

अगर मुझे वो छोड़कर खुश है तो शिकायत किसी,
और अब में उसे खुश भी ना देखु तो मोहब्बत किसी ।।


लिखना मेरे मरने के बाद मेरी यह कहानी लिखना,
कैसे बर्बाद हुए मेरी यह जवानी लिखना,
लिखना के कैसे तरसते थे मेरे यह होंठ
लिखना मेरे मरने के बाद मेरी यह कहानी लिखना,
मरते वक़्त भी दुआ देता तुझको,
हाथ बहार थे कफ़न के यह निशानी भी लिखना।


कुछ दिनों से उन्हें भी हमारी आदत सी हो गई है,
शायद शरारत करते करते उन्हें भी हमसे मोहब्बत हो गई है।


love shayari for instagram post

सोचता हूँ के अब उसकी याद आखिर किसे जगती है,
यारों एक बात तो बताओ की ज़िन्दगी इतने ख्वाब क्यों दिखती है,
क्या सितम है की अब तेरी सूरत गौर करने पर याद आती हैं,
कौन उस घर की देख रेख करेगा जिसकी चीजे हर रोज़ टूटी हो।


के दिल क्या है यह तो जी भी लेगा तेरी यादों के सहारे,
बात तो इन आँखों की है जो तरसती है तेरे दीदार के खातिर।


मोहब्बत तुमसे होनी थी सो हो गई,
नसीहत छोड़िये साथ दीजिये,
दुआ कीजिये।


heart touching shayari instagram

तो अर्ज किया है के लगने दो महफ़िल आज,
शायरी की ज़ुबान करते है,
तुम ग़ालिब की किताब लाना,
हम हाल ऐ दिल बयां करते है।


मेरी मोहब्बत को कभी खेल ना समझना,
वरना खेल तो इतने खेले है कभी हारा नहीं हूँ।


देर लगेगी पर सब सही होगा,
आप को जो चाहिए वही अता होगा,
दिन बुरे है ज़िन्दगी तो नहीं,
सब्र करो सब कुछ सही होगा।


best shayari for instagram

लिखने वाले एक एहसान लिखदे,
मेरी यार की तक़दीर में उसका प्यार लिखदे
ना मिले दर्द उसे कभी मोहब्बत में
तो शायद तक़दीर में गम हज़ार लिखदे ।


ना जाने क्यों इतना दर्द देती है यह मोहब्बत,
हस्ता हुआ इंसान भी मोत की दुआ मांगता है।


यह मोहब्बत के रिश्ते कितने अजीब होते है,
मिल जाओ तो बाते बन गई,
लेकिन अगर बिछड़ जाओ तो यादें बन गई।


जान दे सकते है यही हमारे बस में है,
नहीं बात करते टारे तोड़ लाने की।


तो अर्ज़ किया है सो बार किया दिल से चल भूल भी जा उसको,
हर बार कहा दिल ने तुम दिल से नहीं कहते।


काश एक ख्वाहिश पूरी हो इबादत के बगैर,
वो आजके मुझे आके गले लगाए मुझे इज़ाज़त के बगैर।


best shayri for insta post

इतना प्यार ना देना के बिगड़ जाये हम,
जरा दर्द भी देना ताकि सुधर जाये हम,
गलती हो जाये तो खफा हो जाना,
मगर इतना ना खफा होना की मर जाये हम।


प्यार क्या है ना पूछो मेरे बताने से क्या मान जाओगे,
खुद करके देखो जान जाओगे।


करीब आ जाओ के जीना मुश्किल है तुम्हारे बिन,
दिल को तुमसे ही नहीं तुम्हारी हर अदा से प्यार है।


उससे कहना की ज़रा सोच कर मुझे खुद से जुदा करे,
ज़िन्दगी है ज़ुल्फ़े नहीं जो फिर से सवार जायँगी।


ज़हर खरीद रहे है लेकिन मरना नहीं चाहते,
हम वो कर रहे है जो करना नहीं चाहते।


shayari instagram hindi

तुम पर जचती नहीं यह शर्मिंदगी,
नज़रे उठाओ और जाओ माफ़ किया।


ए चाँद अरसे बाद हमने भी चाँद देखा है,
तुझमे तो दाग है हमने बेदाग देखा है,
क्या लिखू तेरे सुरते तारीफ में,
अगर हमें लिखना आता तो तेरी तारीफ हम बेशुमार लिखते,
अगर हम शायर होते तो तेरे ऊपर एक किताब लिखते।


तुझे मोहब्बत करने वाले कम ना होंगे
मगर महफ़िल में अब हम ना होंगे।


सुना है के तेरे शहर से वफ़ा मिलती है,
टूटे हुए दिलो की दवा मिलती है,
बस यही सोच कर हम आये थे हम तेरे शहर,
पर यहाँ तो दिल लगाने की भी सजा मिलती है।


रिश्ते तोड़ देने से मोहब्बत ख़तम नहीं हो जाती,
अक्सर दिल में वो भी रहते है जो दुनिया छोड़ जाते है।


क्या छुपा है उसके दिल में यह सिर्फ खुदा जनता है,
दिल अगर बेनकाब होता तो सोचो कितना फसाद होता।


hindi shayari for instagram

क्या खूब उलझा रखा है इश्क़ ने हमें,
ना इक़रार करते है और ना ही इंकार।


तेरा ज़िक्र तेरी फिक्र तेरा एहसास तेरा ख्याल,
तू खुदा तो नहीं है, पर हर जगह क्यों है।


बदल गया वक़्त बदल गई बाते, बदल गई मोहब्बत,
कुछ ना बदला तो इन आँखों में नमी और तेरी कमी।


तुम्हारे मुस्कुराने का असर सेहत पर ऐसा होता है,
की लोग पूछते है की दवा का नाम क्या है।


मेरी ज़िन्दगी में एक शख्स है जो मेरी ज़िन्दगी है,
लेकिन में उसकी ज़िन्दगी का एक लम्हा भी नहीं।


वो पीला के जाम अपने लबो से मोहब्बत का अब कहते है
की नशे की आदत अच्छी नहीं।


Instagram urdu shayari in hindi 

ना जाने इस दिल का हाल क्या होगा,
जब मेरा वादा वफ़ा होगा, हश्र में तेरा क्या हश्र होगा जब मेरे जानिब खुदा होगा।


वो मज़ा नहीं दुनिया के किसी कोने में,
जो मज़ा है सुबह उठ के फिर सोने में।


आज हमारे मोहब्बत की इन्तहा बस यही है।
तुझे मोहब्बत थी मुझे आज भी है।


छोड़ के सब कुछ तुम सितारों की बात करते हो,
हम एक की बात करते हो, और तुम हज़ारो की बात करते हो।


बैठे है चेन से कही जाना तो है नहीं,
हम बे घरो का कोई ठीकहाना तो है नहीं,
वो हमें पसंद है  कौन है केसा है,
क्यों पूछते हो हमने बताना तो है नहीं।


मिली बड़ी सजा मुझे दिल लगाने की,
नज़र लग गई मेरे प्यार को इस ज़माने की,
कबर निकले हाथ यह कहते है की
आरज़ू रह गई उसे गले लगाने की।


love instagram shayari

कुछ तो संभल कर रखते मुझे भी खो दिया तुमने,
अर्ज़ किया है..दर्द में भी आवाज़ होती है कभी गौर करना मेरे इन लफ़्ज़ों पर ।।


ख्वाहिश तो ना थी किसी से दिल लगाने की पर,
किस्मत में दर्द लिखा था, मोहब्बत कैसे ना होती ।।


बर्बाद कर देती है मोहब्बत हर मोहब्बत करने वालों को,
क्योकि इश्क़ हार नहीं मानता और दिल बात नहीं मानता।


क्यों डरे ज़िन्दगी से क्या होगा,
कुछ ना होगा तो तजुर्बा तो होगा।


वो बेवफा है तो क्या मत कहो बुरा उसको,
जो हुआ सो हुआ खुदा खुश रखे उसको,
अगर नज़र ना ए तो उसको तलाश में रहना,
अगर मिल जाये कही तो पलट कर ना देखना उसको।


सुना है तुम लेते हो बदला हर बात का,
आज़मायेंगे एक दिन तेरे होंटो को चुम कर ।


instagram sher shayari

ज़िन्दगी बेहद खूबसूरत होती है,
जब अम्मी और अब्बू की दुआए साथ होती है।


ज़िन्दगी की एक ही हक़ीक़त है मेरी,
ना वो मेरा हो सका, ना प्यार दोबारा हो सका।


ज़रा सी एहमियत क्या दी खुद को कोहिनूर मैंने लगे,
यह कांच के टुकड़े भी खूब वेहम पलने लगे।


रूठा हूँ में तुमसे मुझे मनालो न,
मुझे ज़रूरत है तुम्हारी गले लागलो ना।


उम्र भर ग़ालिब यह भूल करता रहा,
धुल चेहरे पर थी, और आइना साफ़ करता रहा।


ना वो दिन रहे ना वो महफिले ना वो दोस्त,
ए वक़्त बता तुझे क्या मिला हम यारों को जुदा करके।


instagram shayari photo

धमकी दी है मेरे दिल ने मुझे इस बार,
की याद करो उसको उसको वरना धड़कना छोड़ दूंगा।


आज मज़बूरी ने भी मजबूर कर दिया,
पता नहीं मोहब्बत ने भी खुद से दूर कर दिया,
तुझ से बिछड़ने के बाद ए हमसफ़र
तेरी बेवफाई ने मुझे मशहूर कर दिया।


इंसान भी बहोत खुदगर्ज़ है,
पसंद करे तो बुराई नहीं देखता
अगर नफरत करे तो अच्छे नहीं देखता।


में अकेला नहीं हूँ तुम्हारी झूठी तसल्ली झूठे वादे,
और झूठी मुस्कान हे मेरे साथ।


रिश्तो के टूटने का दर्द सहा है मेने,
इस लिए रिश्तो से दूर भागता रहा हूँ मैं,
इस दर्द को बर्दाश करने से अच्छा है के
रिश्ते बनाओ ही मत,


दिल ने सोचा था की उसे टूट कर चाहेंगे,
सच कहे तो टूटे भी बहोत है है और चाहा भी बहोत है।


poetry instagram in urdu

किसी शायर ने कहा था मोहब्बत ना करना,
अगर जो जाये तो इंकार ना करना,
निभा सको तो ही मोहब्बत करना,
वरना किसी की ज़िन्दगी बर्बाद मत करना।


सोचता हूँ की तुझे तुझे भूल जाये,
तेरी यादों से इतना में दूर जाऊं
तू चाह कर भी मुझे ढूंढ ना सके,
मैं इस कदर तुझे भूल जाऊं।


कल भी मुसाफिर था आज भी मुसाफिर हूँ,
कल अपनों की तलाश में था,
आज अपनी तलाश में हूँ।


तू याद कर या भूल जा
तू याद है यह याद रख।


तुम भूल जाओ मुझे यह हक़ है तुम्हे,
मेरी बात कुछ और है, मेने मोहब्बत की है सिर्फ तुमसे की है।


आँखों में नमी देख कर समझ गए थे हम के आज दिल फिर उदास है,
फिर इस बात पर मुस्कुरा दिए के ये कोनसी नई बात है।


instagram poetry urdu

आ रही है फिज़ाओ में धीमी धीमी सी महक,
लगता है वो आज भी मेरी याद में साँस ले रही है।


इश्क़ उसी से करो जिसके पास कमिया बेशुमार हो,
यह खूबियों से भरे चहरे इतराते बहुत है।


एक पल का एहसास बन कर आती हो तुम
दूसरे ही पल ख्वाब बन कर उड़ जाती हो तुम,
जानती भी हो के डर लगता है तन्हाइयो से फिर क्यों
तनहा छोड़ जाती हो तुम।


ज़ुल्म करती है तेरी यादे मुझ पर कसम से,
सो जाऊं तो उठा देती है,
जाग जाऊं तो रुला देती है।


वो पहली मुलाकात थी,
और हम दोनों ही बेबस
वो ज़ुल्फ़े न सवार सकी,
और हम खुद को।


तेरी वफ़ा के खातिर ज़लील किया तेरे शहर वालो ने,
अगर तेरी फिक्र ना होती तो सारा शहर जला दिया होता।


poetry in urdu instagram

कब तक रहोगे आखिर यूँ दूर दूर हमसे,
मिलना पड़ेगा आखिर ज़रूर हमसे,
हम छोड़ देंगे तुमसे यूँ बात चित करना,
तुम पूछते फिरोगे अपना कसूर हमसे।


के पूछते हे लोग अक्सर,
के तेरी मोहब्बत ने तुझे क्या दिया,
एक दर्द भरी आवाज़ और आँखों में प्यास
और शायर बना दिया।


अल्लाह के फैसलों पर यक़ीन रखो,
ज़िन्दगी आसान हो जायगी।


कुछ वक़्त गुजरने के बाद यह एहसास हुआ
के जो भी हुआ अच्छा हुआ।


हर लफ्ज़ में मतलब होता है,
हर मतलब में फ़र्क़ होता है,
लोग कहते है की तुम हस्ते बहोत हो,
हसने वालो के दिल में भी दर्द होता है।


gulzar ki shayari instagram

क्या ऐसा नहीं हो सकता के में प्यार मांगू,
और तुम गले लग कर कहो,
और कुछ….?


इतना भी हमसे नाराज़ ना हुआ करो,
बदकिस्मत ज़रूरत यही मगर बेवफा नहीं।


जाने में अब बाते कुछ मतलबी सी करने लगा हूँ ,
दिल तोडा किसी ने था और नफरत सब से कर रहा हूँ।


अगर मोहब्बत के इरादे से आई हो तो लौट जाओ,
इसी में तुम्हारी भलाई है, क्यों की यह टूटे हुए दिल
किसी के काम नहीं आते यह सच्चाइ है।


अब जाके पहुंचा मेरा इश्क़ गहराईयों में
क्युकी अब मेरे तड़पने के दिन शुरू हो गए।


तो अर्ज़ है के बहोत अलग हे तेरी याद का सीलसिला,
कभी एक पल, कभी पल पल, तो कभी हर पल।


instagram shayari in urdu

नज़र चाहती है के तेरा दीदार करूँ,
लेकिन अब दिल इज़ाज़त नहीं देता।


कोशिश तो यह है के में मुस्कुराऊँ सदा,
पर दर्द लिखने के लिए उदास होना ज़रूर है।


हर नशा आज़माया पर उसके साथ रहने की तालाब
ही कुछ और है।


दिल में इस कदर मोहब्बत है उनके लिए,
के सोये तो ख्वाब उनके, जगे तो ख्याल उनके ।।


आप बात अपनी मर्ज़ी से करते हो,
हम भी इतने पागल हे की आपकी मर्ज़ी का इंतज़ार है।


instagram shayari hindi love

तलाश करके देखो मेरी मोहब्बत अपने दिल में,
दर्द हो तो समझ लेना मेरी मोहब्बत अभी बाकि है।


वो रात दर्द और सितम की रात होगी,
जिस दिन रुक्सत उसकी बारात होगी,
उठ जाता हूँ नींद से में यह सोच कर
की एक दिन गैर की बाँहों में मेरी सारी कायनात होगी।


वो मन बना चुके थे हमसे दूर जाने का,
हमें लगा हमें मानना नहीं आता।


गलत था शक करना दुःख यही है
की शक सही निकला ।।


तेरे सिवा किसी को देखा नहीं हमने,
सुख गया गुलाब फिर भी फेका नहीं हमने।


यादों में तुझे बसा के रखा है,
कोई वक़्त भी पूछता है तो तेरा नाम बता देता हूँ।


urdu shayari for instagram

वो तो मोहब्बत हो गई थी,
वरना उम्र ही कहाँ है शायरी करने की।


जब दर्द आँखों से निकला तो लोग कहने लगे
तो लोग कहने लगे यह तो कायर है,
वही दर्द जब लफ्ज़ो से निकला तो कहने लगे
यह तो शायर है।


ज़िद्द ना करिये हमारी दास्ताँ सुनने की,
अगर हम हंस कर भी सुनायेंगे तो दुनिया रोग पड़ेगी।


क्यों पूछते हो मुझसे की किस हाल में हूँ में,
मेरे हालत वही है, मेरा दर्द वही है।


कोई इतना प्यारा कैसे हो सकता है,
सारा का सारा कैसे हो सकता है,
तुमसे मिलते है तो भी उदासी ख़तम नहीं होती,
तुम्हारे बगैर गुज़ारा कैसे हो सकता है।


आदत बदल सी गई है है वक़्त काटने की,
अब हिम्मत ही नहीं रही किसी से अपना दर्द बाटने की।


shayri ki dayri instagram

हम तुम्हे खोना नहीं चाहते,
तुम्हरे सिवा किसी के होना नहीं चाहते।


लेने दे तू मुझे अपने ख्यालो की तलाशी,
मेरी नींद चोरी हो गई है, और मुझे शक है तुम पर।


जो मिल गया उसका शुक्र अदा करो,
जो नहीं मिला उसके लिए दुआ करो।


हर बार इलज़ाम लगा देते हो हम पर,
मोहब्बत का कभी खुद से भी पूछा है कितनी खूबसूरत हो तुम।


तेरे बाद नज़र ना मुझे कोई मंज़िल
किसी और का हो जाना मेरे बस की बात नहीं।


उसे हम छोड़ दे, बस एक छोटी सी उलझन है,
सुना है दिल से धड़कन की जुदाई है मोत होती है।


urdu poetry for instagram

ना जाने कोनसा ज़हर मिलाया है है तुमने मोहब्बत में,
ना ज़िन्दगी अच्छी लगती है, और ना ही  मोत।


गम मिला तो रू ना सके ख़ुशी मिली तो मुस्कुरा ना सके,
मेरी ज़िन्दगी भी क्या ज़िन्दगी भी क्या ज़िन्दगी है,
जिसे चाहा उसे पा ना सके।


तेरी तो फितरत ही सबसे प्यार से बात करने की थी,
बेवजह हम खुद को खुशनसीब समझ बैठे।


मेरे ना हो सके तो कुछ ऐसा करदो,
में जैसा था फिर मुझे वैसा करदो।


मेने हर बार तुमसे मिलते वक़्त तुमसे मिलने की आरज़ू की है,
मेने तुम्हारे जाने के बाद तेरी खुशबु से गुफ्तगू की है,
क्या लिखू तेरे सूरत की तारीफ में,
अल्फ़ाज़ खतम हो गए है तेरी अदाए देख देख कर।


नज़र ने नज़र को नज़र भर के देखा,
नज़र को नज़र की नज़र लग गई।


instagram photo par shayari

मेरे मरने के बाद वो मेरी कब्र पर आये,
कल हम रोये थे आज उन्होंने आंसू बहाये,
वो आज कहते है की तुम मुझे क्यों छोड़ कर चले गए।
कल तक जो कहते थे की तुम क्यों मेरी ज़िन्दगी में आये।


मसरूफियत में आती है बेहद याद तुम्हारी,
और फिर फुर्सत में तेरी याद से फुर्सत नहीं मिलती।


माफ़ करना मुझे तुम्हारा प्यार नहीं चाहिए,
मुझे मेरा हस्ता खेलता दिल वापस चाहिए।


अपने होंटो से कह दो की यूँ ना मुस्कुराया करे,
हम बड़े गुस्ताख़ हैं इन्हे चुम लेंगे।


कोई तुम्हे इतना कहे तो बताना,
कोई तुम्हे इतना चाहे तो बताना,
कोई तुम्हारी फिक्र करे तो बताना,
हम तुमसे प्यार करते है यह तो सब कहते है,
कोई हमारे अंदाज़ में कहे तो बताना।


क्यों ना लगे खूबसूरत वो
एक तो उनके नखरे फिर ऊपर से ईद के कपडे।


उधर ईद का एलान होगा,
इधर दिल हमारा हलकान होगा,
वैसे तो मर्ज़ी है आपकी,
अगर आ जाये तो एहसान होगा।


poetry in urdu for instagram

कुछ वक़्त गुजरने के बाद यह एह्साह हुआ के जो भी हुआ
अच्छा हुआ,


तू फूल बने पतझड़ का तुझ पर बहार कभी,
मेरी ही तरह तू तड़पे तुझे करार ना आये कभी।


हज़ारो ना मुकम्मल हसरतो के निचे,
यह जो दिल धड़कता है न कमाल करता है।


रिश्वत भी नहीं लेता कम्बख्त जान छोड़ने की,
यह इश्क़ मुझे बड़ा ईमानदार लगता है।


एक दर्द है मुझे जीने नहीं देता है,
दिल सबर कर जाता है मुझे रोने नहीं देता,
मैं उसका हूँ यह राज़ वो जान चूका है,
मगर वो किसकी है यह सवाल मुझे सोने नहीं देता।


ना वफ़ा की बात न वफ़ा का ज़िक्र होगा,
अब जब भी मोहब्बत होगी निकाह के बाद होगी।


के आँख खोलू तो चेहरा तुम्हारा हो,
आँख बंद करूँ तो ख्वाब तुम्हरे हों,
मर भी जाऊं तो कोई गम नहीं,
अगर कफ़न ना मिले तो यह दुपट्टा तुम्हारा हो।


कांटे तो नसीब में आने ही थे,
फूल जो गुलाब का चुना था हमने।


instagram followers shayari

यह जो बेवजह आँखों से निढाल करते हो,
ज़ुल्म करते हो मगर कमल करते हो।


मोहब्बत दो लोगो के बिच एक नशा है,
जिसे पहले होश आया वो बेवफा है।


दुनिया में मोहब्बत आज भी बरकार है,
तभी तो आज भी एक तरफ़ा प्यार वफादार है।


दिल इतनी शिद्दत के साथ चाहता क्यों है,
हर साँस में तेरा ही नाम आता क्यों है।


क्यों देखती हो आईना,
तुम तो खुद से भी ज़्यादा खूबसूरत हो,
अब खिताब हुई दास्ताँ तुम मेरी आखरी मोहब्बत हो।


बहोत कुछ कहना है मगर कभी तुम नहीं मिलते,
तो कभी अल्फ़ाज़ नहीं मिलते ।


वही शख्स मेरे लश्कर से बगावत कर गया,
जीत कर सल्तनत जिसके नाम करनी थी।


instagram follow shayari

काश यह दिल अपने इख्तियार में होता,
ना किसी की याद आती, और ना ही किसी से प्यार होता।


खुद ही वो छुपा ना सकी अपना चेहरा नकाब में,
यूँ ही हमारी आँखों पर इलज़ाम लगा दिया।


हर शायरी मेरे अब तुम ना होगी,
मगर याद रखना के मेरी मोहब्बत कभी काम ना होगी,
जो कोई भी पूछेगा तुम्हारे बारे में,
होंठ सील लिए जायँगे, लेकिन आँखे नाम ना होगी।


रूठ जाने की अदा हमें भी आती है,
ए काश कोई होता हमें भी मानाने वाला।


मुझे महंगे तोहफे पसंद नहीं है,
अगली बार जब आओ तो वक़्त लेते आना।


अपनी मंज़िल तक पहुँच कर लोटे है दोस्तों,
कुछ इस तरह कुछ इस तरह से हम अपनी मोहब्बत में हारे है।


shah noor shayari ki instagram shayari

किसी के लिबास की खुशबु जब उड़ कर आती है,
तेरे बदन की जुदाई मुझे बहोत सताती है
तेरे गुलाब तरस ते है तेरी खुशबु को,
तेरी सफ़ेद चमेली तुझे बुलाती है,
तेरे बगैर मुझे चेन नहीं पड़ता,
मेरे बगैर तुझे नींद कैसे आती है ।।


चाहत से फ़तेह करता हूँ लोगो के दिलो को,
मोहब्बत से फतह करता हूँ लोगों के दिलों को,
में ऐसा सिकंदर हूँ जो लश्कर नहीं रखता।


प्यार के दो मीठे बोल से खरीद लो मुझको,
अगर दौलत दिखाई तो सरे जहाँ की कम पड़ेगी।


तुम मुझे अच्छे या बुरे नहीं लगते,
तुम मुझे खूबसूरत या बदसूरत नहीं लगते,
तुम मुझे सिर्फ मेरे लगते हो सिर्फ लगते।


तुमसे अब ये रिश्ता कुछ ऐसा है की
न नफरत है ना प्यार पहले जैसा है।


रात तो क्या सारी ज़िंदगी जाग कर गुज़ार दूंगा,
एक बार कह तो सही के मुझे तेरे बिना नींद नहीं आती।


एक नई दुनिया बसना चाहता हूँ मगर,
कभी नींद नहीं आती तो कभी ख्वाब नहीं मिलते ।।


बिना तेरे मेरी हर ख़ुशी अधूरी है,
अब तू सोच मेरे लिए कितना ज़रूरी है।


खुशियों से नाराज़ है मेरी ज़िन्दगी है,
प्यार से मोहताज है मेरी ज़िन्दगी,
वैसे तो लोगो को दिखने के लिए हस्ते है हम,
असल में तो दर्द की एक किताब है मेरी ज़िन्दगी।


shah noor shah ki shayari

बहुत जल्दी सीख लेता हूँ ज़िन्दगी का सबक,
गरीब का बच्चा हूँ हर बात पर ज़िद्द नहीं करता।


वक़्त नहीं ता साहेब वक़्त बुरा नहीं था,
हमें लोग ही बुरे मिले।


तुमसे मोहब्बत में करता हु,
तुम्हे खोने से में डरता हूँ,
यही सोच में जीता हु
यही सोच में मरता हूँ।


कुछ बातो का मतलब तो कुछ मतलब की बाते
जब से फ़र्क़ समझे है तो ज़िन्दगी आसान हो गई।


हम इतने हसीं तो नहीं की हम पे हर कोई फ़िदा हो जाये,
मगर हाँ जिसे हम आँख भर के देख ले उन्हें हम उलझन में दाल देते है।


तो देखा है मेने यह आलम इस ज़माने में,
के बहुत जल्दी थक जाते है लोग रिश्ते निभाने में।


ज़िन्दगी यूं ही गुज़ार रही इम्तेहानों के दौर से,
एक जख्म भरता नहीं के दूसरा आने की ज़िद्द करता है।


जगाया उन्होंने ऐसे की आज तक सो ना सके,
रुलाया उन्होंने ऐसे की किसी के आगे रो ना सके,
ना जाने उनमे क्या बात थी, जब से माना है उसे अपना,
कभी किसी के हो ना सके।


कफ़न मेरे सर से उठा कर खूब दीदार कर लेना,
फिर नज़र ना आयंगी वो आँखे जिन्हे तुम बहुत रुलाया करते थे।


टूटे हुए दिल को जोड़ कर फिर तोडा तुमने,
पहले भी कही के न थे, फिर कहीं का ना छोड़ा तुमने।


दुपट्टा क्या रख लिया सर पर, दुल्हन सी नज़र आने लगी,
वो उनकी तो अदा होगी, मगर हमारी जान जाने लगी।


shayar instagram

हमारा दिल खरीदना चाहते हो तो एक मुनासिब कीमत बताते है,
आंखिया उठाइये, ज़रा सा मुस्कुराइए, और दिल ले जाइये।


बदला भी क्या लूँ में तुमसे,
आज भी हस्ते हुए अच्छे लगते हो।


आंसू जता देता है की दर्द केसा है,
बेरुखी बता है की हमदर्द केसा है,
घमंड बता देता है की पैसा कितना है,
बाते बता देती हे के इंसान केसा है।


दिलों की बात करता है ज़माना,
मोहब्बत आज भी छेहरो से शुरू होती है।


अगर लगता है तुम्हे की गलत हूँ मैं,
अगर लगता है तुम्हे की गलत हूँ मैं,
हाँ सही हो तुम थोड़ा अलग हूँ मैं।


रिश्तो को वक़्त दो,
ताजमहल दुनिया ने देखा है,
मुमताज ने नहीं।


जाते जाते उनके यह आखरी अल्फ़ाज़ थे,
जी सको तो जी लेना लेकिन अगर मर जाओ तो बेहतर है ।

मुझे क्या पता दुखो की कीमत।
लोग मुफ्त में दे जाते है।


लबों पर होंठ रख कर कहा उस ज़ालिम ने,
क्या शिकायत है क्या गिला है,
अब बताते क्यों नहीं।


जीना तुम्हे किसी ने चाहा भी ना होगा,
उतना तो सिर्फ में तुम्हे याद करता हूँ।


ठोकर कहते हैं और मुस्कुराते है,
इस दिल को सब्र सिखाते है,
हम तो दर्द लेकर भी लोगो को याद करते है,
लोग दर्द देकर भूल जाते है।

 

One comment

  1. Greetings from Colorado! I’m bored at work so I decided to browse
    your blog on my iphone during lunch break. I love the information you present here and can’t wait to take
    a look when I get home. I’m shocked at how quick your blog loaded on my cell phone ..
    I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyways, good blog!

Comments are closed.